चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

नशा कारोबार के खिलाफ दीनदयाल सेवा संघ और कोशिश ‘एक मुस्कान लाने की’ ने बोला हल्ला, बारीडीह दुर्गापूजा मैदान से पैदल यात्रा निकालकर चलाया जागरूकता अभियान

By Goutam

Published on:

---Advertisement---

सोशल संवाद/जमशेदपुर: जमशेदपुर शहर एवं आसपास के क्षेत्र में नशा के बढ़ते कारोबार पर संस्था दीनदयाल सेवा संघ एवं सामाजिक संस्था कोशिश ‘एक मुस्कान लाने की’ ने संयुक्त रूप से रविवार को नशीले पदार्थों ब्राउन शुगर, गांजा, डेंडराइट और नशीली दवाओं जैसी चीजों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने लिए जागरूकता अभियान चलाया। इस अभियान में विभिन्न सामाजिक संस्था एवं राजनीतिक दल से जुड़े लोगों ने हिस्सा लिया।

संस्था के सदस्यों ने हजारों लोगों के संग बारीडीह दुर्गापूजा मैदान से पदयात्रा सह जागरूकता मार्च प्रारंभ कर बारीडीह बाजार एवं बारीडीह मुख्य सड़क के रास्ते पुनः दुर्गापूजा मैदान पहुंचे। जागरूकता मार्च के पश्चात बारीडीह दुर्गा पूजा मैदान में आयोजित सभा में एकात्म मानववाद के प्रणेता प्रखर राष्ट्रवादी चिंतक पंडित दीनदयाल उपाध्याय के छविचित्र के सम्मुख द्वीप प्रज्वलित कर एवं श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें नमन किया गया। जहां वक्ताओं ने नशे के बढ़ते कारोबार एवं इससे बर्बाद हो रही युवा पीढ़ी एवं समाज के समक्ष उत्पन्न हो रहे खतरे के प्रति लोगों को आगाह किया।

सभा को संबोधित करते हुए दीनदयाल सेवा संघ एवं कोशिश एक मुस्कान लाने की के संरक्षक शिवशंकर सिंह ने कहा कि ब्राउन शुगर, गांजा, डेंडराइट, स्मैक और नशीली दवाओं के उपयोग से युवाओं की मानसिक स्थिति बिगड़ती जा रही है और वे अपने लक्ष्य से भटक कर गलत कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीते कुछ वर्षों में शहर के युवाओं की रगों में नशा बसता जा रहा है। दिनों दिन नशे की जड़ें मजबूत होती जा रही हैं। कभी चोरी छिपे बिकने वाले नशे का सामान, आज गली-मोहल्ले के छोटे दुकानों में धड़ल्ले से बिक रहा है। ऐसे समय में अभिभावक अपने बच्चों पर पूरा ध्यान रखें और उनसे नशे के खतरे एवं समस्याओं पर चर्चा करें। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में संस्था ऐसे कार्यक्रम के जरिये विभिन्न क्षेत्रों में जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को नशे के दुष्परिणाम पर सचेत करेगी।

वहीं, दीनदयाल सेवा संघ के निशांत कुमार ने कहा कि जमशेदपुर शहर के युवा पीढ़ी को तबाह करने के लिए बांग्लादेश की धरती से ब्राउन शुगर एवं गांजा का काला कारोबार साजिश के तहत किया जा रहा है। ऐसे जहरीले नशे का सबसे अधिक प्रभाव युवा वर्ग पर हुआ है। कम उम्र में नशे के आदी हो जाने से कई युवा अपने युवावस्था में ही मनो चिकित्सालयों में इलाज करवा रहे हैं, वहीं ऐसे नशे के आदि होने के बाद से शहर में क्राईम भी बढ़ते जा रहे है। उन्होंने प्रशासन से मांग की कि ऐसे नशीले पदार्थों पर पूर्ण अंकुश लगाया जाए।

इस अवसर पर भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर मिश्रा, भाजपा बारीडीह मंडल अध्यक्ष संतोष ठाकुर, बिरसानगर भाजपा मंडल अध्यक्ष बबलू गोप, आजसू के जिलाध्यक्ष कन्हैया सिंह, धर्मेंद्र प्रसाद, गुरुचरण सिंह बिल्ला, शिंदे सिंह,  कुमार अभिषेक, क्रीड़ा भारती के राजीव कुमार, अप्पू तिवारी, डॉ कविता परमार, अनिशा सिन्हा, लालचंद सिंह, अमर सिंह, रतन महतो, सागर तिवारी, दीनदयाल सेवा संघ के अध्यक्ष शशिकांत सिंह, सतीश मुखी, अंशुल कुमार, विवेक कुमार, मोटू सिंह सरदार, नितेश कुमार, नीरज मिश्रा, कोशिश एक मुस्कान लाने के सदस्य हन्नी परिहार, राजेश सिंह, राजा अग्रवाल, राकेश गिरी, पप्पू कुमार, राणा प्रताप सिंह, पीयूष ईशु, सुमित सिंह, बंटी सिंह, अजय सिंह, आलोक कुमार समेत अन्य सदस्यगण मौजूद थे।

---Advertisement---