चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

खरसावां में खुशनुमा माहौल में अदा की गई ईद की नमाज, लच्छे-सेवईया के साथ चला ईद मुबारक को दौर, मुल्क के अमन-शांति की मांगी दुआ

By Goutam

Published on:

ईद

---Advertisement---

जनसंवाद, खरसावां (रिपोर्ट- उमाकांत कर): ईद मुस्लिम समुदायय का पवित्र त्योहार है। रमजान खत्म होते ही खरसावां में खुशनुमा माहौल के बीच ईद-उल-फितर मनाई। लोगों ने मस्जिदों व ईदगाह में ईद की नमाज अदा किया। वही नमाज के बाद सामुहिक रूप से मुसलमानों ने मुल्क की अमन-शांति के लिए अल्लाह से दुआये मांगी। इसके पश्चात गिले-शिकवे भूलकर एक दूसरे से गले मिलकर ईद की मुबारक बाद दी। साथ ही एक दुसरे को लच्छे-सेवईया खिलाकर ईद की मुबारक बाद का दौर शुरू हो गया।

जश्न-ए-ईद पर खरसावां के दो ईदगाह एवं एक मस्जिदों में नमाज अदा की गई। खुशनुमा माहौल के बीच खरसावां में छाया रहा जश्न-ए-ईद की खुशिया। रमजान के मुबारक महिना के बाद रोजेदारो के लिए खुदा के तोहफा के रूप में मिला ईद खुशिया लेकर आई है। गुरूवार को मुसलमान भाईयों ने नए वस्त्र पहन कर नमाज अदा करते हुए अल्लाह ताला से दुआ मांगी। ईद-उल-फितर की दो रेकात नमाज अदा की गई।

कदमडीहा ईदगाह, बेहरासाई ईदगाह, मस्जिद निजामुददीन गोढपुर में नमाज पढी। ईद के नमाज के पुर्व ईमामो ने रोजे, जकात, फितरा, की जानकारी दी। वही खुदवा सुन्ने के बाद खुदा से दुआ मांगी गई। इधर महिलाओं ने भी एक दुसरे के घरो में जाकर ईद की मुबारकबाद दी। सेवई, लच्छा, पुलाव, बिरयानी आदि बनाकर लोग दावत लेते देते नजर आये। ईद की वजह से मुस्लिम बहुल इलाके में गुलजार रहा।

मानवता का संदेश देने वाला ईद-रजवी
मदिना मस्जिद बेहरासाई के मौलाना मो0 आसिफ इकबाल रजवी ने कहा कि मानवता का संदेश देने वाला ईद उल फितर का त्योहार सभी को समान समझने व गरीबो को खुशियां देने के लिए प्रेरित करता है। रमजान के पवित्र माह में जो लोग अपने सदव्यवहार के साथ नेकी की राह पर चलते है। अल्लाह ताला उनके जीवन को ढेर सारी खुशियों से भर देते है।

रंग बिरंगे कपडों में चहके बच्चे
नमाज के बाद युवक, बुजूर्ग व बच्चों ने भी एक दुसरे को सलाम करके एवं गले मिलकर ईद की बधाई दी। रंग-बिरंगे कपडों के साथ बच्चों में अधिक उत्साह देखा गया। घर घर में खूब मेहमान नवाजी हुई। मिठाईयों एवं अनेक प्रकार के व्यंजन के खाने और दोस्तों तथा रिष्तेदारों को खिलाने का दौर चला।

जरूरतमदों के बीच बांटी गई जकात
ईद-उल-फितर की नमाज के पूर्व मुस्लिमों ने परिवार के सदस्यों को नकद,सोने,जेवरातों के लिए निकाला गया जकात जरूरतमदों के बीच बांटा। नमाज के पूर्व जकात देना अनिवार्य है।

ईद में खासी सहज दिखा पुलिस
ईद को लेकर भी खरसावां बीडीओ प्रधान माझी व थाना प्रभारी गौरव कुमार के नेतृत्व में पुलिस प्रशासन भी खासी सहज दिखा। खरसावां के बेहरासाई,कदमडीहा,गोढपुर मुस्लिम बहुल ईलाको में स्थित ईदगाह व मस्जिदो में नमाज के दौरान पुलिस बल तैनात थे।

घरो में चला लच्छे, सेवईया का दौर
खुशी और भाईचारे के इस त्योहार में पकवानों का जोर रहा। प्रत्येक घर में लच्छे,फलूदा,खीर,छोला,सेवईया, दहीबोडा,चिकन,मटन,आदि पकवाने बनी थी। इस दौरान विषिष्ट पकवानो से मेहमानों का स्वागत हो रहा था।

---Advertisement---