होम 

राज्य

नौकरी

राजनीति

देश दुनिया

योजना

खेल समाचार

टेक

जमशेदपुर

धर्म-समाज  

वेब स्टोरी 

---Advertisement---

 

आदित्यपुर पुलिस एवं गौ रक्षक समिति की तत्परता से 08 मवेशियों से लदा पिकअप वैन धराया, प्रशासन ने वाहन को किया जप्त

By Aman Kumar Ojha

Published on:

 

---Advertisement---

1080x1080
12
WhatsApp Image 2024-02-16 at 18.19.23_f6333809
WhatsApp Image 2023-09-09 at 20.39.37
previous arrow
next arrow

जनसंवाद, सरायकेला/आदित्यपुर(अमन कुमार ओझा): सरायकेला-खरसावां जिला अंतर्गत आदित्यपुर पुलिस ने गौ तस्करी कर ले जा रहे 8 मवेशियों को मुक्त करने में सफलता प्राप्त की है। बताते चलें प्रशासन द्वारा पिकअप वैन भी जप्त कर लिया गया है। मौके पर से तस्कर भागने में सफल रहे।

मिली जानकारी के मुताबिक आए दिन राजनगर से गजिया बराज के रास्ते से आदित्यपुर होते हुए हर दिन तस्कर गोवंशीय पशुओं को लेकर जाने की सूचना पर गौ रक्षक सक्रिय हुए। इसके बाद उन्होंने इसकी पूर्ण जानकारी आरआईटी थाना, आदित्यपुर थाना, एवं कदमा थाना को दिया। साथ ही गौ रक्षक की पूरी टीम गुरुवार की देर रात से ही सभी मार्गों पर अपनी सजकता दिखाते हुए तैनात रहे।

जिसके बाद शुक्रवार की अहले सुबह करीब 4:45 पर सफेद पिकअप वैन गाड़ी संख्या OD-09E-7495 को आता देख गौ रक्षक एवं प्रशासन पूरे तरीके से सक्रिय हो गए तभी आर आई टी मोड के समीप पुलिस और गौ रक्षों को सक्रिय देख पिकअप वैन वापस आरआईटी की ओर भागने लगे। मगर प्रशासन और गौ रक्षों की कड़ी मेहनत से उन्होंने वाहन को पकड़ लिया। हालांकि पिकअप वैन के चालकों को प्रशासन ने काफी हद तक धरने का प्रयास किया मगर अंधेरा का फायदा उठाते हुए चालक भाग निकला। इसके बाद प्रशासन वाहन को जप्त कर अपने साथ थाने ले गई और तलाशी के दौरान करीब आठ मवेशियों को बुरी तरीके से वाहन में बांधा पाया गया जो दर्द के मारे बुरी तरह कराह रहे थे।

सभी मवेशियों को प्रशासन द्वारा बंधन मुक्त कराया गया। वहीं पत्रकारों से बातचीत के दौरान गौ रक्षा सिंहभूम विभाग के प्रमुख मंटू दूबे ने बताया कि आगामी बकरीद को लेकर गौ तस्कर जिले में काफी सक्रिय हैं। उड़ीसा के रास्ते से राजनगर, आरआईटी, गम्हरिया, आदित्यपुर होते हुए गौर तस्कर धड़ल्ले से गोवंशीय पशुओं की तस्करी कर रहे हैं। जिसकी सूचना उन्हें लगातार मिल रही थी। श्री दुबे ने प्रशासन से इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

श्री दुबे ने यह अभी बताया कि अगर पुलिस सावधानी नहीं बरतती तो बहुत तस्कर पुलिस पर भी हमला करने से नहीं कतराते। उन्होंने बताया कि जो पिकअप वैन निकला उसमें भी मवेशी और गौ मांस लदे हुए थे। आपको बता दे की 2 दिन पूर्व गजिया के समीप तस्करी कर ले जा रहे हैं मवेशियों को ग्रामीणों ने मुक्त कराया था और पिकअप वैन में आग लगाकर रख कर दिया था। बावजूद इसके गौ तस्कर इसी मार्ग से ही आवागमन कर रहे हैं।

इस पूरे अभियान में आदित्यपुर पुलिस टीम की दो गाड़ियां दलबल के साथ सक्रिय रही एवं प्रभारी नितिन कुमार लगातार इसकी मॉनिटरिंग करते रहे, वहीं गौ रक्षा सिंहभूम विभाग के प्रमुख मंटू दुबे, निशांत कुमार, आकाश शर्मा, प्रशांत कुमार, गौरव झा की अहम भूमिका रही।

 

---Advertisement---