चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

निरक्षर महिलाएं साक्षर होकर बनेगी स्वावलंबी, नारदीगंज के सभी विद्यालयों में अब पढ़ेगी 18 से 50 साल की निरक्षर महिला, लगेगी क्लास

By Goutam

Published on:

---Advertisement---

सोशल संवाद/ नारदीगंज (रिपोर्ट- विकास कुमार): प्रखंड के सभी विद्यालयों में महिला साक्षरता सह अभिसरण केंद्र का का संचालन आज धनियामा स्थित उत्क्रमित उच्च माध्यमिक विद्यालय दिन बुधवार को इसकी विधिवत शुरुआत की गई।

सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा (ADSS) अर्पणा झा ने बताया कि 18 से 50 बरस की  निरक्षर महिलाओं को शिक्षित करना इसका मूल उद्देश्य है, जब घर की महिला शिक्षित होगी तब उसका परिवार शिक्षित होगा, महिलाएं इसके लिए संबंधित विद्यालयों में जाकर पढ़ाई करें एवं अपने देश के भविष्य को पढ़ाई के प्रति जागरूक करेंl

यह कार्यक्रम नारदीगंज प्रखंड के सभी विद्यालयों में इसकी विधिवत शुरुआत की गई। सभी शिक्षकों को इसके लिए शिक्षा के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से सभी को लक्ष्य दिया गया है। जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके निरक्षर महिलाओं को साक्षर बनाना हैl

मौके पर उत्क्रमित उच्च माध्यमिक विद्यालय धनियामा में सहायक शिक्षा निदेशक सामाजिक सुरक्षा अर्पणा झा, प्रखंड विकास पदाधिकारी रंजीत कुमार, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी महेश्वर रविदास, पेश पंचायत के मुखिया शशि भूषण कुमार उर्फ बेनू यादव, बीआरपी मनोज यादव, राकेश कुमार शिक्षक, प्रधानाध्यापक संजय कुमार के साथ-साथ सामाजिक एवं बुद्धिजीवी वर्ग के लोग उपस्थित हुए।

---Advertisement---