चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

राशन वितरण में अव्यवस्था में को लेकर झामुमो विधायक ने DC से की मुलाकात, खाद्दान्न में की जा रही कटौती पर जताई नाराजगी

By Goutam

Published on:

राशन वितरण

---Advertisement---

जनसंवाद डेस्क/जमशेदपुर: पूर्वी सिंहभूम जिला के सभी प्रखंडों में जन वितरण प्रणाली दुकानों से राशन वितरण में अव्यवस्था को लेकर झामुमो जिलाध्यक्ष सह घाटशिला विधायक रामदास सोरेन के नेतृत्व में पोटका विधायक संजीव सरदार एवं जुगसलाई विधायक मंगल कालिंदी सोमवार को पूर्वी सिंहभूम उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री से मुलाकात किया।

इस दौरान विधायको ने उपायुक्त से जन वितरण प्रणाली के दुकानों से कार्डधारियों को अगस्त एवं सितंबर माह के खाद्दान्न में की जा रही कटौती पर नाराजगी जाहिर करते हुए पूरे मामले की जानकारी लेते हुए इसमें सुधार का निर्देश दिया गया। उपायुक्त ने खाद्यान्न कटौती के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र सरकार द्वारा कोविड के दौरान दिए जा रहे प्रधानमंत्री कल्याण अन्न योजना का बैकलॉग चावल के एक साल का समायोजन अगस्त और सितंबर माह के चावल में कर दिया गया है। जिससे कि जविप्र दुकानदारों के आवंटन में भारी कटौती हो गई है। जिसके कारण जविप्र दुकानदारों के समक्ष अनाज वितरण की समस्या उत्पन्न हो गई है।

उन्होंने कहा कि एक सप्ताह के अंदर सभी प्रखंड में जन वितरण प्रणाली के प्रखंड एवं पंचायत स्तरीय निगरानी समिति की बैठक आयोजित कर वास्तविक स्थिति की जानकारी दी जाएगी। जिससे कि अनाज वितरण को लेकर वस्तुस्थिति की जानकारी निगरानी समिति के सदस्य ग्रामीणों को दे।

बैठक में विधायकों ने जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों को मिलने वाले कमीशन भत्ता के लंबे समय से नही मिलने की जानकारी भी उपायुक्त को दी, जिस पर उपायुक्त ने कहा कि जल्द ही जविप्र दुकानदारों को कमीशन भत्ता का भुगतान किया जाएगा।

आवंटन के अनुसार खाद्यान्न का जल्द वितरण करे दुकानदार: डीएसओ

खाद्यान्न वितरण में उहापोह की स्थिति पर जिला आपूर्ति पदाधिकारी दीपू कुमार ने कहा कि आवंटन में भारी कटौती के कारण खाद्यान्न वितरण में अव्यवस्था का माहौल है। सभी जविप्र प्रणाली के दुकानदारों को निर्देश दिया गया है कि मिले आवंटन के अनुसार अगस्त एवं सितंबर माह के खाद्यान्न का वितरण जल्द करे आगे सरकार के निर्देशानुसार कार्य किया जाएगा।

---Advertisement---