चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

आदित्यपुर : महिला के साथ हुई छेड़खानी के विरोध में ग्रामीणों का फूटा गुस्सा, एसडीओ पारुल सिंह के आश्वासन पर ग्रामीण हुए शांत, आरोपियों को चिन्हित कर होगी कार्रवाई….

By Balram Panda

Published on:

---Advertisement---

आदित्यपुर  / Balram Panda : थाना क्षेत्र अंतर्गत औद्योगिक क्षेत्र फेज 7 से सटे इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर के पास नेताजी सुभाष हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज के निर्माणाधीन कंस्ट्रक्शन साइट पर कार्यरत मजदूरों द्वारा घर लौट रही महिला के साथ छेड़खानी करने से आक्रोशित ग्रामीणों ने मंगलवार को भी विरोध जागते हुए धरना प्रदर्शन किया मौके पर सरायकेला सिविल एसडीओ पारुल सिंह ने पहुंचकर आरोपियों की चिन्हित कर कार्रवाई करने की बात पर उग्र ग्रामीण माने.

 

वहीं, एसडीओ पारुल सिंह ने बताया कि निर्माणाधीन कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करने वाले मजदूरों की सूची तैयार कर उनसे पूछताछ की जाएगी मामले को लेकर दोनों पक्षों द्वारा लिखित शिकायत की गई है, पुलिस द्वारा मामला दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ किया गया है. एसडीओ ने बताया कि नेताजी सुभाष अस्पताल प्रबंधन द्वारा वार्ता कर कंस्ट्रक्शन साइट पर सुरक्षा व्यवस्था स्थापित की जाएगी, महिला के साथ छेड़खानी करने वाले आरोपी की फिलहाल पहचान नहीं हो सकी है एसडीओ के आश्वासन पर ग्रामीणों ने मौके से धरना विरोध प्रदर्शन समाप्त किया गौरतलब है कि आदित्यपुर थाना क्षेत्र के ईएमसी के पास हथियाड़ीह में निर्माणाधीन नेताजी सुभाष यूनिवर्सिटी में काम कर रहा छः मजदूरों ने गांव की रहनेवाली एक महिला से छेड़खानी किया था, महिला ड्यूटी से वापस अपने घर लौट रही थी. इसी क्रम में नेताजी सुभाष मेडिकल कॉलेज के बिल्डिंग निर्माण में लगे छः मजदूर महिला को घेर लिया था.

 

महिला जब कुछ समझ पाती तब तक एक मजदूर महिला का हाथ पकड़कर बिल्डिंग में खींचने का प्रयास किया. जिसके बाद महिला शोर मचाना शुरू कर दिया. महिला की आवाज सुन उस रास्ते से गुजर रहे कुछ ग्रामीण मौके पर पहुंचे, जिसके बाद महिला उन मजदूरों के चंगुल से निकलकर भागने में सफल हुई. महिला सीधे अपने घर पहुंची और खुद के साथ घटी घटना की जानकारी ग्रामीणों और अपने परिवार के लोगो को दिया. इसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए और हजारों की संख्या में ग्रामीण निर्माणाधीन बिल्डिंग को घेर लिया था. इधर आक्रोशित ग्रामीणों को समझाने एसडीओ के अलावा आदित्यपुर पुलिस, गम्हरिया, आरआईटी थाना प्रभारी दलबल के साथ मौके पर मौजूद रहे.

---Advertisement---