होम 

राज्य

नौकरी

राजनीति

देश दुनिया

योजना

खेल समाचार

टेक

जमशेदपुर

धर्म-समाज  

वेब स्टोरी 

---Advertisement---

 

स्कूली बच्चों के नेत्र दृष्टि जांच करने को लेकर कुचाई में सहायक शिक्षकों को दिया गया प्रशिक्षण

By Goutam

Published on:

 

नेत्र दृष्टि जांच

---Advertisement---

1080x1080
12
WhatsApp Image 2024-02-16 at 18.19.23_f6333809
WhatsApp Image 2023-09-09 at 20.39.37
previous arrow
next arrow

जनसंवाद, खरसावां (उमाकांत कर): राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम एवं अंधापन नियंत्रण कार्यक्रम के तहत गुरुवार को कुचाई के प्रखंड संसाधन केंद्र में प्रखंड के सभी प्राथमिक व मध्य विद्यालयों के एक-एक सहायक शिक्षकों को स्कूल के बच्चों का नेत्र दृष्टि जांच करने को लेकर प्रशिक्षण दिया गया‌।

कुचाई प्रखंड के कुल 107 सहायक शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया। राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम एवं अंधापन नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत बुधवार से पूरे जिले में नेत्र जांच अभियान शुरू हुआ जो जुलाई में नियमित रूप से संचालित रहेगी। अभियान के तहत अध्यनरत विद्यार्थियों को दृष्टिहीनता से बचाना प्रमुख लक्ष्य दृष्टिहीनता के कारण विद्यार्थी अपने संपूर्ण प्रतिभा का प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं ऐसे विद्यार्थियों के लिए यह कार्यक्रम काफी कारगर साबित होगी। विद्यार्थियों का नेत्र जांच करने एवं दृष्टि दोष से पीड़ित विद्यार्थियों को चश्मा उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है।

मौके पर नेत्र सहायक सीताराम महतो एवं फिजियोथैरेपिस्ट आदित्य कुमार के द्वारा प्रशिक्षण देते हुए बताया कि प्रशिक्षित सहायक शिक्षक अपने विद्यालय में अध्यनरत विद्यार्थियों का मैन्युअल नेत्र जांच करेंगे। मैन्युअल जांच में चिन्हित दृष्टि दोष के संभावित विद्यार्थियों को पुनः मशीन के द्वारा बीआरसी कुचाई में नेत्र विशेषज्ञ चिकित्सकों के द्वारा सत्यापन जांच किया जाएगा। दृष्टि दोष से ग्रसित पाए जाने वाले विद्यार्थियों को जिला अंधापन नियंत्रण समिति सरायकेला खरसावां के द्वारा निशुल्क चश्मा उपलब्ध कराया जाएगा।

 

---Advertisement---

Leave a Comment