चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

अमर शहीद चन्द्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस पर नमन परिवार ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि, भारत माता के जयकारे से गूंजा कालीमाटी रोड़

By Goutam

Published on:

---Advertisement---

सोशल संवाद/जमशेदपुर: देश प्रेम, वीरता और त्याग की परिभाषा गढ़ने वाले भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान क्रान्तिकारी, भारत माता की आजादी के लिए अपने प्राणों का बलिदान करने वाले साहस, शौर्य व निर्भीकता के प्रतीक, प्रखर राष्ट्रभक्त अमर शहीद चन्द्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस पर उन्हें नमन परिवार द्वारा कालीमाटी कार्यालय में श्रद्धा सुमन अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी गईl

चंद्रशेखर आजाद हमारे शान के प्रतीक: राकेश्वर पांडेय

इस अवसर पर उपस्थित मुख्य अतिथि मजदूर नेता राकेश्वर पांडे ने कहा कि- आजादी की लड़ाई का इतिहास क्रांतिकारियों के विविध साहसिक कारनामों से भरा पड़ा है और ऐसे ही बलिदानियों के बलिदान को याद कर युवाओं को जागृत करने के लिए नमन परिवार की विचारधारा को नमन।

आजाद के बलिदान का कृतज्ञ राष्ट्र सदैव ॠणी रहेगा: काले

इस अवसर पर संस्थापक अमरप्रीत सिंह काले अमरप्रीत सिंह काले ने कहा कि- चंद्रशेखर आजाद को याद कर हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है। आजाद को आजाद भारत से कम कुछ भी स्वीकार नहीं था। उनका बलिदान हमें मातृभूमि की सेवा में अपना सर्वस्व अर्पण करने की सीख देता है। अपने शौर्य से इस वसुंधरा को गौरवान्वित करने वाले अजर अमर सेनानी के बलिदान का कृतज्ञ राष्ट्र सदैव ॠणी रहेगा। उन्होंने कहा हमें वैसे लोग पसंद नहीं जो राष्ट्र के प्रति भक्ति नहीं रखते। नमन ने शहीदों की शहादत को याद कर उन्हें आज की पीढ़ी को याद दिलाने का जो  बीड़ा उठाया है वो अपने मकसद में कामयाब हो रहा है इसका सबूत आज यहां उपस्थित मातृशक्ति और युवा साथी हैंl

वरिष्ठ पत्रकार सह नमन के संरक्षक बृजभूषण सिंह ने कहा कि – वीरता, साहस,निडरता की प्रतिमूर्ति थे माँ भारती के अमर सपूत चंद्रशेखर आजाद। ऐसे सपूत विरले ही मिलते हैं जिन्होंने मातृभूमि के लिए अपना सर्वस्व बलिदान कर दियाl

कार्यक्रम के दौरान यूपी संघ के रामकेवल मिश्रा, कथा वाचिका लता सिन्हा, पूर्व सैनिक परिषद के वरुण कुमार, हर हर महादेव सेवा संघ के अध्यक्ष सुखविंदर सिंह निक्कू, झारखंड सिख प्रतिनिधि बोर्ड के जसवंत सिंह भोमा, आजसू नेता मुन्ना सिंह, जंबू अखाड़ा के बंटी सिंह, अर्पण संस्था के जूगुन पांडे ने अपने विचार रखे कार्यक्रम का संचालन राजीव कुमार एवं धन्यवाद ज्ञापन महेश मिश्रा ने दिया।

श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में साकची गुरुद्वारा प्रधान निशान सिंह, महासचिव परमजीत सिंह काले, ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के कुलविंदर सिंह पन्नू, झारखंड सिख प्रतिनिधि बोर्ड अध्यक्ष गुरचरण सिंह बिल्ला, इंद्रजीत सिंह कपूर, बिष्टुपुर गुरुद्वारा से महेन्द्र पाल सिंह, मानगो गुरुद्वारा से इंदर सिंह इंदर, त्रिलोचन सिंह, महेंद्र सिंह, नरेंद्र सिंह निदीं, सुरजीत सिंह सिते, सतनाम सिंह गंभीर, सिख नौजवान सभा के महासचिव दमनप्रीत सिंह,वायस ऑफ़ यूनिटी के हरी सिंह, कराटे एसोसिएशन के सरजू राम, संतलाल पाठक,  ब्राह्मण युवा शक्ति संघ के अप्पू तिवारी, तेलुगु समाज से भानु राव,प्रमिला शर्मा, रीया मित्रा, बंदना नामता, पुतुल सिंह, हेमलता, आभा वर्मा, लख्खी कौर, ममता पुष्टि, सीमा जयसवाल, खुशबू सहाय, सीमा शर्मा, मिनी सिंह, किरन सिंह, रीता, चंदना रानी, गौरी कुमारी, सीता देवी, नमिता सिंह, ममता सिंह, गीता कुंडु, सरीता, सीमा हेम्बरम, रीमा भट्टाचार्य, ममता कपूर, कलावती देवी, गीतांजलि बोस, ममता साहा, तनूश्री लेकां, एस बी राणा आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

---Advertisement---