चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

कुचाई प्रखंड के रूगुडीह में भगवत सिंह मुंडा की जयंती पर सोनाली टुसू मेला सह फुटबॉल प्रतियोगिता संपन्न

By Goutam

Published on:

---Advertisement---

सोशल संवाद/खरसावां (रिपोर्ट- उमाकांत कर): कुचाई प्रखंड के रूगुडीह फुटबाॅल मैदान में स्वं भगवत सिंह मुंडा जंयती पर सोनाली टुसू मेला संघ लुपूंगबेडा रूगुडीह के द्वारा आयोजित दो दिवसीय टुसू मेला और फुटबॉल प्रतियोगिता सम्र्पन हो गई।

पुरूष वर्ग के प्रतियोगिता के फाइनल मैच में पोड़ाडीह एफसी को 1-0 से पराजित कर डोरेया एफसी की टीम चैम्पियन बनी। जबकि महिला वर्ग के प्रतियोगिता के फाईनल मैचा में टाई ब्रेकर के तहत हेलो ब्रदर्श विजार कुचाई को 2-1 से पराजित कर मधुडीह टीम चैम्पियन बनी।

पुरूष वर्ग के प्रतियोगिता में कुल 24 टिमों ने भाग लिया। जबकि बालिका वर्ग में 8 टीमों ने भाग लिया। प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रूगुडीह पंचायत के मुखिया करम सिंह मुंडा एवं सासंद प्रतिनिधि लखीराम मुंड़ा ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर और फुटबॉल को किक मारकर किया।

मुखिया और सांसद प्रतिनिधि के द्वारा पुरूष वर्ग फुटबाॅल प्रतियोगिता के विजेता टीम डोरेया एफसी को 20 हजार, उपविजेता टीम पोड़ाडीह एफसी को 15 हजार तथा तृतीय स्थान पर रहे जीएम एफसी पाडेया को 10 हजार देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावे महिला फुटबॉल प्रतियोगिता की विजेता टीम मधुडीह टीम को 2500 रूपये तथा उप विजेता टीम विजार को 2000 हजार तथा तृतीय स्थान पर रहे पोड़ाडीह एफसी को 1000 रूपये देकर सम्मानित किया गया।

मौके पर श्री मुंड़ा ने कहा कि खेल कैरियर के लिए बेहतर विकल्प है। खेल में मिली कामयाबी से न सिर्फ अपनी पहचान बनती है, बल्कि स्कूल, क्षेत्र, राज्य का नाम रौशन होता है। उन्होने ने कहा कि गामीण परिवेश में झारखण्ड की खेल प्रतिभा की धूम है। बेहतर खेल का प्रदर्शन कर खिलाडी अपना उज्ज्वल भविष्य बनाये। इसके अलावे टूसू चैडाल प्रतियोगिता के विजेता  जोजोहातु को तीन हजार रुपये देकर सम्मानित किया गया। वहीं बूगी बूगी नृत्य प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया।

इस दौरान मुख्य रूप से मुखिया करम सिंह मुंडा एवं सासंद प्रतिनिधि लखीराम मुंड़ा, बैकुंठ सिंह मुंडा, मंगल पाण्डेया, दुर्गा सिंह मुंड़ा, ललितचन्द्र सिंह मुंड़ा, हरिचरण मुंडा, हेमन्द्र सिंह मुंड़ा, मंदन सिंह मुंड़ा, डोमन सिंह मुंड़ा आदि उपस्थित थे।

---Advertisement---