चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

IADVL का बड़ा आरोप; बिना वैध डिग्री के फर्जी चिकित्सक चर्म रोगों का कर रहे हैं इलाज, भोले-भाले मरीजों को इलाज के नाम पर ठग रहे

By Goutam

Published on:

---Advertisement---

सोशल संवाद/जमशेदपुर: शहर में बिना वैध डिग्री के चर्म रोगों का फर्जी चिकित्सक इलाज कर रहे हैं। ये फर्जी चिकित्सक खुद को स्कीन (त्वचा) विशेषज्ञ डॉक्टर बताकर भोले-भाले मरीजों को इलाज के नाम पर ठग रहे हैं। यह कहना है कि जमशेदपुर डर्माटोलोजिस्ट डॉक्टर एशोसिएशन का।

आईएडीवीएल झारखण्ड के बैनर तले साकची के होटल दयाल इंटरनेशनल में शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया। उक्त संवाददाता सम्मेलन में स्कीन (त्वचा) विशेषज्ञ डॉक्टरों ने कहा कि शहर में कई  फर्जी चिकित्सक खुद को स्कीन (त्वचा) विशेषज्ञ डॉक्टर बताकर भोले-भाले मरीजों को इलाज के नाम पर ठग रहे हैं।

अपनी बातों को विस्तार पूर्वक रखते हुए स्कीन विशेषज्ञ डॉक्टरों ने कहा कि जमशेदपुर में आज की तारीख में बिना डिग्री के भी बहुत सारे झोला छाप डॉक्टर जो अपने आप को स्कीन (त्वचा) विशेषज्ञ डॉक्टर बताकर भोले-भाले मरीजों का ईलाज करते हैं जिससे उक्त बिमारी तो ठीक नहीं होती उल्टे और अधिक बढ़ जाती है, और उन्हें ठीक करने में जो सही के त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉक्टर हैं उन्हें उक्त रोग के बढ़ जाने पर ठीक करने में अधिक समय की बरबादी, मरीजों का अधिक पैसा का नुकसान के साथ-साथ कई रोग असाध्य भी हो जाते हैं।

उक्त संवाददाता सम्मेलन के माध्यम से जमशेदपुर के डर्माटोलोजिस्ट डॉक्टरों के एशोसिएशन ने अपने सभी रजिस्टर्ड डॉक्टर का नाम और पता बताया और कहा कि यह सभी डॉक्टर आईएडीवीएल जो की एक संस्था है जिसमें पोस्ट ग्रेजुएट करने के बाद वहाँ से मेम्बरशिप नम्बर मिलती है और यह मेम्बरशिप किसी झोला छाप डॉक्टर के पास नहीं होता है।

जमशेदपुर के नागरिक चाहें तो वह अपने मोबाईल से ही डॉक्ट की डिग्री को आसानी से चेक कर सकते हैं। स्कीन (त्वचा) विशेषज्ञ डॉक्टर बन्ने के लिए पहले एमबीबीएस करने के बाद दो साल का डिप्लोमा और 3 साल का डिग्री कोर्स करना पड़ता है इसके बाद भी सर्टिफिकेशन कोर्स करने के बाद एक जेन्युईन आईएडीवीएल सर्टिफाईड स्कीन डॉक्टर ही प्रैक्टीस करने के लिए अधिकृत हैं आजकल जमशेदपुर में हरेक मेडिकल स्टोर में एक स्कीन डॉक्टर का नाम लीखा मिलेगा ये शायद फर्जी झोलाछाप डॉक्टर हो सकते हैं। ऐसे डॉक्टर की डिग्री को ठीक तरीके से जाँच लें इसके बाद भी अगर आपको कुछ डाउट है तो आईएडीवीएल के वेबसाईट पर जाकर आप पता लगा सकते हैं।

हाल ही में एक और बात सामने आई है कि जमशेदपुर में बहुत सारे स्कीन क्लीनिक खुले हुए हैं उस क्लीनिक में आईएडीवीएल सर्टिफाईड डॉक्टर नहीं मिलेंगे ये सारे क्लीनिक में आपको एक महीने या महीने का सर्टिफिकेट कोर्स करके अपने आप को स्कीन डॉक्टर बोलकर मरीजों के साथ धोखा करते हैं। कुछ क्लीनिक में लेजर मशीन भी रखें हुए हैं जिससे बहुत सारे मरीजों का चेहरा तक जला देते हैं। कुछ दिन पहले हमारे संस्थान के पास एक ऐसा डेंटिस्ट का एक प्रीसक्रीप्सन मिला था जो चेहरे को गोरा करने के लिए केमिकल प्लींग करते हैं ये सारे लोग फर्जी हैं और ऐसे लोगों से मरीजों को समाज के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है।

डॉ. राजीव कुमार ठाकुर, डॉ. राजू कुमार, डॉ. एएन झा, डॉ एजे भुरी, डॉ बनश्री मजूमदार, डॉ॰ निकिता गुप्ता एवं डॉ. पल्लवी ने कहा कि शहर में करीब एक दर्जन ऐसे फर्जी चिकित्सक हैं, जो चर्म रोग विशेषज्ञ बन कर लोगों का गलत इलाज चल रहे हैं। संस्था ने शहर के 16 चर्म रोग विशेषज्ञ डॉक्टरों की सूची भी जारी की और कहा कि इसके अलावा शहर में अन्य कोई चर्म रोग विशेषज्ञ नहीं है।

---Advertisement---