चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

बासाहातु में चार दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता आयोजित, विजेता टीमों को विधायक ने किया पुरस्कृत

By Goutam

Published on:

फुटबॉल

---Advertisement---

जनसंवाद डेस्क/खरसावां (रिपोर्ट- उमाकांत कर): खूंटपानी प्रखंड अंतर्गत बासाहातु में बुधवार को स्व मारकाण्डे हाईबुरू मेमोरियल फुटबॉल टूर्नामेंट युवा विकास संघ की ओर से आयोजित चार दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता सम्पन्न हुई। प्रतियोगिता के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में खरसावां विधायक दशरथ गागराई शामिल हुए।

पुरुष वर्ग 64 टीमों के बीच आयोजित प्रतियोगिता का फाइनल मैच टेट एफसी व स्नेहा एंड स्नेहा के बीच खेला गया। जिसमें पेनल्टी 5-3 से टेट एफसी की टीम विजेता रही। विजेता टीम को 1 लाख एवं उपविजेता रहे स्नेहा एंड स्नेहा की टीम को 65 हजार रुपए नगद राशि देकर अतिथियों के द्वारा पुरस्कृत किया गया। तीसरे स्थान पर रहे बामानगुटु की टीम को 30 हजार एवं चौथे स्थान पर रहे दुर्गा एफसी की टीम को 20 हजार रुपए नगद राशि देकर पुरस्कृत किया गया। जबकि पांचवें स्थान से लेकर आठवीं स्थान पर रहे टीमों को भी नगद राशि देकर पुरस्कृत किया गया।

वहीं 8 टीमों के बीच महिला वर्ग का फाइनल मैच माई एफसी व गीता स्पोर्टिंग क्लब सरायकेला के बीच खेला गया। जिसमें पेनल्टी 2-1 से माई एफसी की टीम विजेता रही। विजेता टीम को 10 हजार एवं उपविजेता रहे सरायकेला की टीम को 7 हजार रुपए नगद राशि देकर पुरस्कृत किया गया। जबकि 40 प्लस में 8 टीमों के बीच आयोजित फाइनल मैच सेवा सदन बासाहातु व सेपेड क्लब जानुमपी के बीच खेला गया। जिसमें बासाहातु की टीम 1-0 गोल से विजेता रही। विजेता टीम को 10 हजार एवं उपविजेता रहे जानुमपी की टीम को 8 हजार रुपए नगद राशि देकर पुरस्कृत किया गया।

इस दौरान विधायक दशरथ गागराई ने कहा कि फुटबॉल झारखंड का सबसे लोकप्रिय खेल है। खिलाड़ी लक्ष्य निर्धारित कर खेल सफलता जरूर मिलेगी। उन्होंने कहा कि सरकार की खेल नीति के माध्यम से खिलाड़ियों को चिन्हित कर सीधे नियुक्ति देने का काम कर रही है। साथ ही खिलाड़ियों के लिए जोहार परियोजना पोर्टल खोल दी है।

मौके पर जिला परिषद सदस्य यमुना तियू, विधायक प्रतिनिधि दुर्गा चरण पाड़ेया, बीस सूत्री अध्यक्ष राहुल गोप, सीएचसी प्रभारी डॉ आलोक रंजन, डिम्बु तियू, सकारी दोंगों, मजदूर नेता सिकंदर जामुदा, ग्राम मुंडा, मंजीत हाईबुरू, दुम्बी हाईबुरू, दिनेश हाईबुरू, विश्वजीत हाईबुरू, सादो हाईबुरू, बिशु हाईबुरु, गुलशन कुजूर, अशोक मुंडारी, सुदराय पाड़ेया आदि उपस्थित थे।

---Advertisement---