चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने विधायक गागराई के साथ किया आमदा में निर्माणाधीन 500 बेड के अस्पताल का निरीक्षण

By Goutam

Published on:

---Advertisement---

जनसंवाद डेस्क, खरसावां (रिपोर्ट- उमाकांत कर) : राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने सोमवार को खरसावां विधायक दशरथ गागराई के आग्रह पर खरसावां के आमदा स्थित निर्माणाधीन 500 बेड का अस्पताल भवन का औचक निरीक्षण किया. मौके पर मंत्री बन्ना गुप्ता ने स्थानीय विधायक दशरथ गागराई समेत स्थानीय लोगों से अस्पताल निर्माण कार्य में हुए देरी की जानकारी ली.

जल्द ही योजना की समीक्षा कर खामियों को दूर करेंगे, अस्पताल का निर्माण कार्य पूर्ण करायेंगे : बन्ना गुप्ता

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि स्वास्थ्य जैसे संवेदनशील मामलों में लेट-लतिफी बरदास्त नहीं की जायेगी. उन्होंने कहा कि जल्द ही इस योजना की रिव्यू करेंगे. जहां भी कमी खामियां है, उसे दूर कर अस्पताल का निर्माण कार्य पूरा कराया जायेगा. उन्होंने कहा विधायक दशरथ गागराई की दिली इच्छा है कि जल्द अस्पताल का निर्माण कार्य पूर्ण किया जाये. इस मामले को वे कई बार विस में भी रख चुके है. राज्य की हेमंत सोरेन सरकार निश्चित रुप से अस्पताल का निर्माण कार्य पूर्ण कर इसका लाभ आम लोगों तक पहुंचायेंगी. उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में स्वस्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त किया जा रहा है. लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिये सरकार संकल्पित है.स्थानीय लोगों ने बताया कि पिछले छह माह से कार्य बंद पड़े हुए है. योजना को 2014 में पूरा होना था, शिलान्यास के 12 साल गुजर जाने के बाद भी अस्पताल भवन का 70 फिसदी कार्य भी पूरा नहीं हो सका है.

कोल्हान के लिये महत्वपूर्ण योजना, 2024 से पूर्व अस्पताल को पूर्ण करें : गागराई

मौके पर विधायक दशरथ गागराई ने कहा कि संवेदक की शिथिलता के कारण ही शिलान्यास के 12 साल बाद भी खरसावां के आमदा में 500 बेड़ के अस्पताल का निर्माण कार्य पूर्ण नहीं हो पाया है. गागराई ने कहा कि उन्होंने मंत्री जी से आग्रह किया है कि वर्ष 2024 से पूर्व अस्पताल का निर्माण कार्य को पूर्ण करायें, ताकि इसका लाभ क्षेत्र की जनता को मिले. स्वास्थ्य मंत्री ने 24 से पूर्व 500 बेड के इस अस्पताल को पूर्ण कर जनता समर्पित करने का आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि विस के पिछले सत्र में भी इस मुद्दे को विस में उठाया था. हर बार इस मुद्दे को उन्होंने विस में इस मुद्दे को उठाया. उन्होंने कहा कि मेरे आग्रह पर मंत्री जी आमदा पहुंच कर वास्तविक स्थिति से अवगत हुए. उन्होने स्थिति का आकलन किया. यह क्षेत्र का एक ज्वलंत मुद्दा है.

अस्पताल के निरीक्षण के दौरान मुख्य रुप से एडीसी सुबोध कुमार, एसडीएम रामकृष्ण कुमार, सिविल सर्जन डॉ अजय कुमार सिंह, बीडीओ गौतम कुमार, विधायक प्रतिनिधि (स्वास्थ्य) अनूप सिंहदेव, भवेश मिश्रा, सुधीर मंडल, सुरेश मोहंती, देवीलाल बोदरा, साधु चरण बोदरा, भुवनेश्वर महतो, हिमांशु प्रधान, मदन प्रधान आदि मौजूद थे.

2011 में हुआ था अस्पताल का शिलान्यास, अब भी है अधुरा

मालूम हो कि आमदा में 500 बेड के अस्पताल का शिलान्यास तत्कालिन मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने वर्ष 2011 में किया था. खरसावां के आमदा में निर्माणाधीन 500 बेड़ का अस्पताल 11 साल बाद भी अधुरा है. जानकारी के 18 मई 2011 को खरसावां के आमदा के आमदा में  500 बेड के अस्पताल निर्माण के लिये 153 करोड 96 लाख की प्रशासनिक स्वीकृति दी गयी थी. इसके लिये नयी दिल्ली की एनबीसीसी लिमिटेड के साथ एकरारनामा किया गया. एकरारनामा के अनुसार इसे 26 फरवरी 2014 को पूरा करना था. भविष्य में इसे मेडिकल कॉलेज मे उत्क्रमित करने की योजना थी. परंतु अब तक सिर्फ अस्पताल भवन का स्ट्रेक्चर ही खड़ा हुआ है.

---Advertisement---