चुनाव 2024 राज्य नौकरी राजनीति देश दुनिया योजना खेल समाचार टेक जमशेदपुर धर्म-समाज
---Advertisement---

प्रेस क्लब ऑफ जमशेदपुर का कैरियर काउंसलिंग कॉन्क्लेव संपन्न, SSP ने दिया भविष्य निर्माण का गुढ़ मंत्र

By Goutam

Published on:

प्रेस क्लब ऑफ़ जमशेदपुर

---Advertisement---

जनसंवाद डेस्क: प्रेस क्लब ऑफ जमशेदपुर ने सामाजिक जिम्मेदारियों का निर्वाह करते हुए शनिवार को राजेंद्र विद्यालय परिसर स्थित बिहार एसोसियेसन सभागार में कैरियर कौसिलिंग कॉन्क्लेव का आयोजन किया। इस आयोजन में मुख्य वक्ता के तौर पर उपस्थित एसएसपी प्रभात कुमार ने शहर के स्कूलो के 1000 से अधिक बच्चो को भविष्य निर्माण की बारीकियों को सरल तरीके से बताया। उनके साथ बीए कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के चेयरमैन डॉ शिव कुमार सिंह ने भी दृश्य श्रव्य माध्यम से बच्चो की कैरियर संबंधी जिज्ञासा को शांत किया।

न रखे कैरियर को लेकर कन्फ्यूजन

एसएसपी प्रभात कुमार ने कहा की कैरियर को लेकर छात्र कोई कंफ्यूजन न रखे बल्कि जिस कार्य में मन लगता हो वही करे। उन्होंने कहा की लक्ष्य निर्धारित कर सदैव अपने सामने रखे और अपना एक भी वक्त बेकार कामों में जाया न करे। उन्होंने अभिभावकों से भी बच्चो के इंटरेस्ट को समझते हुए उसी दिशा में प्रोत्साहित करने का आह्वान किया। एसएसपी ने कहा कि बिना रुचि के इंजीनियर बने तो पूल गिरेंगे ही और बगैर जुनून के डॉक्टर बने तो सर्जरी के बाद पेट में कैंची छूटेगा ही। उन्होंने इस दौरान छात्रों से कहा की संस्थान या रैंक के बजाय बेहतर संगति में रह कर अच्छा ज्ञान प्राप्त करे।

97 प्रतिशत अंकों के बाद भी अभिभावक दुखी

एसएसपी ने बताया कि पिछले दिनों एक अभिभावक इस बात पर दुखी होकर उनसे मिले कि उनकी संतान को परीक्षा में 97 प्रतिशत अंक ही मिले। श्री कुमार ने बताया कि उन्होंने  कभी इतने अंक हासिल किए ही नहीं। उन्हें 62 प्रतिशत अंक मिले थे बावजूद उसके वे आइपीएस हैं। जिस फील्ड में गए वहां लगन से पढ़ाई की इसलिए सफलता मिलती गई।

सिटी बैंक का सीइओ बनने का था लक्ष्य

एसएसपी प्रभात कुमार आइपीएस बनने से पूर्व बैकिंग क्षेत्र में थे। उन्होंने बताया कि उन्होंने बैकिंग क्षेत्र में बेहतर करने का लक्ष्य तय किया था और मुजफ्फरपुर से स्कूली शिक्षा के बाद सोमाया कॉलेज मुंबई में पढ़ाई के दौरान अपने रूम में एक तख्ती लगा रखी थी जिस पर भारी भरकम डिग्रियों के साथ अंकित था डॉ प्रभात कुमार, सीइओ सिटी बैंक। लेकिन न तो उनके नाम के आगे डॉ लगा है न भारी भरकम डिग्री, लेकिन कैरियर के चयन में समयानुसार लिए गए निर्णयों ने उन्हें ऊंचाइयों तक पहुंचाया और मंच पर मुख्य अतिथि हैं।

इस दौरान डॉ शिव कुमार सिंह ने बताया कि इस दौर में आर्ट, साइंस और कॉमर्स में दाखिले की होड़ के बजाय अपने पसंद के क्षेत्र में उम्दा काम करे।

छात्र-छात्राओं ने पूछे सैकड़ों सवाल, विशेषज्ञों ने दी सटीक सलाह

इस दौरान छात्र छात्राओं ने सैकड़ों प्रश्न अतिथि वक्ताओं के समक्ष रखे जिनका दोनो अतिथियों ने पूरी तन्मयता के साथ उत्तर दिया। साथ ही छात्र-छात्राओं के उन सवालों का भी जवाब दिया जो आम तौर पर सामान्य कैरियर कौंसिलिंग कार्यक्रम में अनछुए रह जाते हैं। इससे पूर्व अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत उदघाटन किया। वरिष्ठ पत्रकार संदीप सवर्ण ने विषय प्रवेश किया जबकि संचालन वरिष्ठ महिला पत्रकार अंतरा बोस ने किया।

इस दौरान बिहार एसोसिएशन के अध्यक्ष बीएन चौधरी, चमकता आईना के संपादक जयप्रकाश राय, इस्पात मेल के संपादक ब्रजभूषण सिंह, दैनिक भास्कर के संपादक डॉ संजय पांडे समेत विभिन्न स्कूल के शिक्षक मौजूद थे। प्रेस क्लब के अध्यक्ष प्रशांत कुमार सिंह पुतुल, महासचिव अंजनी पांडे ने अतिथियों का स्वागत किया।  आयोजन को बीए कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, श्रीलेडर्स और मिस्ट प्लस का भी सहयोग मिला। आयोजन को सफल बनाने में राघवेंद्र, नानक सिंह, उमाशंकर सिंह, भोला प्रसाद, राजेश कुमार लालदास, विनय पूर्ति, इम्तियाज इंटू, पीयूष मिश्रा, मो अकबर, जयेश ठक्कर, शुभदर्शी, राजेश, मिंटू आदि ने योगदान दिया।

---Advertisement---