होम 

राज्य

नौकरी

राजनीति

देश दुनिया

योजना

खेल समाचार

टेक

जमशेदपुर

धर्म-समाज  

वेब स्टोरी 

---Advertisement---

 

कुचाई में कांग्रेसियों ने केक काटकर और मिठाई बांटकर मनाई राहुल गांधी का जन्मदिन, संविधान रक्षा का लिया संकल्प , राहुल हाशिए पर पड़े लोगों के नेता हैं-प्रमेन्द्र

By Goutam

Published on:

 

राहुल गांधी का जन्मदिन

---Advertisement---

1080x1080
12
WhatsApp Image 2024-02-16 at 18.19.23_f6333809
WhatsApp Image 2023-09-09 at 20.39.37
previous arrow
next arrow

जनसंवाद, खरसावां (उमाकांत कर): कुचाई के सुदूरवर्ती क्षेत्र चार मोड मेें कांग्रेस नेता राहुल गांधी का 54 वां जन्मदिन धूमधाम से मनाया गया। साथ ही संविधान रक्षा का संक्लप लिया गया। बुधवार को झारखंड युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव प्रमेन्द्र कुमार मिश्रा की अध्यक्षता में सैकड़ों कांग्रेसियों ने इकट्ठा हुए और केक काटकर और मिठाई खिलाकर एक-दूसरे को बधाई दी।

कांग्रेस नेताओं में राहुल गांधी के जन्मदिन को लेकर काफी उत्साह दिखा। मौके पर श्री मिश्रा ने कहा कि राहुल जी भारत के गरीब, हाशिए पर पड़े और पिछड़े नागरिकों के निर्विवाद नेता हैं। बेजुबानों की आवाज, कमजोरों के लिए ताकत का स्तंभ, हमारे संविधान के संरक्षक, सर्वाेत्कृष्ट न्याय योद्धा और भारत के गौरवशाली भविष्य की सबसे उज्ज्वल उम्मीद है। वे संविधान को बचाने की लड़ाई में खड़े हुए हैं।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की संविधान में बताए गए मूल्यों के प्रति उनकी अटूट प्रतिबद्धता और लाखों अनसुनी आवाजों के प्रति उनकी गहरी संवेदना उन्हें दूसरों से अलग बनाती है। श्री मिश्रा ने कहा कि राहुल गांधी सबसे कठिन समय देखा है, सबसे खराब गालियों का सामना किया है। हर तरफ से हमलों का सामना किया है, लेकिन वे हमेशा अपने सिद्धांतों पर अडिग रहे। कभी भी अपने सिद्धांतों से विचलित नहीं हुए। चाहे उन्हें कितना भी उपहास या अपमान क्यों न सहना पड़े। आज हमारे देश में उनके रूप में एक विवेकशील रक्षक और एक ऐसा नेता है, जिसका आजीवन मिशन हमारे देश को हमारे सभी सपनों का समावेशी, प्रगतिशील और समृद्ध राष्ट्र बनाना है।

इस दौरान मुख्य रूप से प्रदेश युवा कांग्रेस सचिव प्रेमेन्द्र कुमार मिश्रा,अनिल सोय, डाबुआ सोय, वीरेंद्र नायक, पूर्व प्रखंड अध्यक्ष कृष्णा सोय, आई आलम, मांगीलाल सोय, रामलाल उगुरसंडी, सन्नी सोय, डूबराज सिंह सोय, मुन्ना सोय, शशि सोय, दामोदर सोय, सोमनाथ उगुरसंडी, जोबना उगुरसंडी, विरंती सोय, माधुरी सोय, रायमुनी उगुरसंडी, हरिचरण सोय, जमा डांगिल, संध्या सोय, मथुरा सोय, शैलेश गोप, पताल सिंह सोय आदि उपस्थित थे।

 

---Advertisement---

Related Post

Leave a Comment